HomeSports'सजा भुगत तो ली...' डेविड वॉर्नर पर लगे कप्तानी के प्रतिबंध को...

‘सजा भुगत तो ली…’ डेविड वॉर्नर पर लगे कप्तानी के प्रतिबंध को हटाने के लिए ग्रेग चैपल ने की वकालत

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज ग्रेग चैपल ने मंगलवार को कहा कि डेविड वॉर्नर का कप्तानी से आजीवन प्रतिबंध हटा लिया जाना चाहिए। चैपल ने कहा कि स्टार बल्लेबाज में एक सफल ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बनने की क्षमता है। दक्षिण अफ्रीका में 2018 के बॉल टैंपरिंग कांड में वार्नर, स्टीव स्मिथ और कैमरन बैनक्रॉफ्ट को बैन का सामना करना पड़ा।

डेविड वार्नर वहीं स्मिथ पर एक साल और बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगाया गया है. इतना ही नहीं, स्मिथ को कप्तानी से हटा दिया गया और दो साल के लिए कप्तानी से प्रतिबंधित कर दिया गया, जबकि वार्नर को कप्तानी से आजीवन प्रतिबंधित कर दिया गया।

73 वर्षीय चैपल ने ‘फॉक्स स्पोर्ट्स न्यूज’ को बताया, ‘जो कुछ हुआ उसमें उनकी (डेविड वार्नर) की प्रमुख भूमिका थी, लेकिन वह अकेले नहीं थे। पता नहीं क्यों उनके साथ अलग व्यवहार किया गया। चैपल ने आगे कहा, ‘उन्होंने अपनी सजा काट ली है। मौका दिया जाए तो वह एक अच्छे कप्तान बन सकते हैं। उन पर से प्रतिबंध हटाया जाना चाहिए।

पूर्व कप्तान इयान चैपल ने यह भी पूछा कि जब स्मिथ को फिर से कप्तानी दी जा सकती है तो वार्नर पर प्रतिबंध क्यों लगाया गया। पिछले महीने टेस्ट कप्तान ने वार्नर पर से प्रतिबंध हटाने की भी मांग की थी।

RELATED ARTICLES

STAY CONNECTED

Latest News