HomeStatesJanakpuri Mahotsav: बारिश के बीच जनकपुरी पहुंची श्रीराम की बारात, 'राजा जनक'...

Janakpuri Mahotsav: बारिश के बीच जनकपुरी पहुंची श्रीराम की बारात, ‘राजा जनक’ ने उतारी आरती

आगरा के मनकामेश्वर मंदिर स्थित लाला चन्नोमल की बारादरी से बुधवार रात 10 बजे श्रीराम की बारात निकली। बाराती भी बैंडबाजे से भीग रहे थे। श्री राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न के रूपों को वर्षा से बचाने के लिए लोग छाता लेकर रथ पर खड़े थे। देर रात एक बजे तक बारात कचारी घाट पहुंच गई। बारिश ने शहर में भव्य आयोजन में बाधा डाली। श्रीराम के स्वागत के लिए लोग जहां रात भर इंतजार करते थे, वे सड़कें एक बजे के बाद खाली मिलीं।

गुरुवार की सुबह भी बारिश थमी नहीं। बारिश के कारण श्री राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न का रूप रथ के बजाय एक कार में लोगों तक पहुंचा। इधर, राजा जनक के रूप में आलोक अग्रवाल और श्री रामलीला महोत्सव समिति के अध्यक्ष पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने श्री राम और उनके भाइयों की आरती की।

इन रास्तों से निकली बारात

लाला चन्नोमल की बारादरी, आदमी: कामेश्वर स्ट्रीट, रावतपाड़ा, जौहरी बाजार, सुभाष बाजार, लाला कोकमल मार्ग, चट्टा बाजार, काचरी घाट, बेलनगंज, पथवारी, धूलियागंज, सिटी स्टेशन रोड, गरीब चिपेली इंट, फुल्टी बाजार, एस. का बाजार, किनारी बाजार, कसेराट बाजार होते हुए रावतपाड़ा पहुंचे। यहां विश्राम करने के बाद बारात रावतपाड़ा से फिर शुरू हुई और लॉर्ड टॉकीज के रास्ते दलालबाग पहुंची।

रात भर बारिश

भगवान इंद्र ने श्रीराम की बारात में प्रसन्नता की वर्षा में राम के भक्तों को भरपूर स्नान कराया। दिन भर इंद्र की कृपा बरसती रही। जहां भगवान श्री राम रत्नमय मुकुट पहने रथ पर विराजमान थे, वहीं इंद्र ने भी वर्षा के साथ भगवान के विवाह की खुशी व्यक्त की। रघुनंदन के आभूषणों को बारिश से बचाने के लिए राम भक्त भगवान को छतरी से छाया करते रहे

 

RELATED ARTICLES

STAY CONNECTED

Latest News